Wednesday
Jul 24th
Text size
  • Increase font size
  • Default font size
  • Decrease font size
Click here to Enroll Prelims Test Series 2018

निबंध

डाकघरों के माध्‍यम से ग्रामीण विकास

भारत में डाकघरों का सबसे बड़ा नेटवर्क है, जहां वित्‍तीय, संचार और अन्‍य खुदरा सेवायें उपलब्‍ध है। डाकघरों के नेटवर्क की मौजूदा ढांचागत सुविधाओं और आसान पहुंच की मदद से ग्रामीण विकास के क्षेत्र में मानव प्रयासों और सामाजिक विकास का सुनहरा अध्‍याय लिखा जा सकता है

Last Updated ( Tuesday, 30 October 2012 09:12 )

Login to read more...
 

इंदिरा आवास योजना पर एक नजर

प्रत्येक ग्रामीण  निर्धन, विशेषत: गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वालों को आवास उपलब्ध कराने की अवधारणा ने 1985 के आसपास जन्म लिया था...

Login to read more...

लुक ईस्ट पॉलिसी

जितेन्द्र चतुर्वेदी

1990 का दशक आते-आते भारत ऐसी जगह पर पहुंच चुका था जहां पर उसे कुछ ऐसे निर्णय लेने थे जो उसकी तकरीबन 4 दशक पुरानी नीति में...

Last Updated ( Sunday, 07 October 2012 12:22 )

Login to read more...

भारतीय अर्थव्यवस्था और सेवा क्षेत्र

वर्ष 1991 में सुधारोत्तर अवधि में देश की उच्च विकास की यात्रा का मार्ग इसके तृतीय क्षेत्र, अर्थात सेवा क्षेत्र के शानदार और निरंतर ठोस प्रगत...

Last Updated ( Tuesday, 25 September 2012 09:59 )

Login to read more...

निवेश स्‍थान के रूप में भारत का उदय

विकासशील देशों में निवेश हेतु संसाधनों की जरूरत सामान्‍यत: घरेलू उपलब्‍ध संसाधनों से ज्‍यादा होती है। भारत में ऐतिहासिक तौर पर सकल घरेलू निव...

Login to read more...
Page 2 of 3