Monday
Sep 25th
Text size
  • Increase font size
  • Default font size
  • Decrease font size
Click here for UPSC Prelims 2017 Question Paper & Answer Key

विनिर्माण में ओडिशा प्रथम

एक अध्ययन के अनुसार देश के विनिर्माण क्षेत्र को मिले कुल लगभग 33 लाख करोड़ रूपये मूल्य के निवेश में ओडि़शा की 17 फीसद से अधिक की सबसे अधिक हिस्सेदारी है। उद्योग मंडल एसोचैम के एक अध्ययन ‘विनिर्माण में निवेश कार्यान्वयन में देरी का प्रभाव विश्लेषण’ में यह निष्कर्ष निकाला गया है।

इसके अनुसार विनिर्माण क्षेत्र में निवेश हिस्सेदारी के लिहाज से गुजरात दूसरे (लगभग 12 फीसद हिस्सेदारी) कर्नाटक तीसरे (11 फीसद हिस्सेदारी) झारखंड चैथे (नौ फीसद हिस्सेदारी) व छत्तीसगढ़ पांचवें स्थान (सात फीसद) पर रहा। सितंबर 2015 तक ओडि़शा में करीब 39 फीसद विनिर्माण परियोजनाएं कार्यान्वयन अधीन रही।

इस अध्ययन के अनुसार लागत वृद्धि का सामना कर रही लंबित परियोजनाआं े के लिहाज से भी आेि डशा पहल े स्थान पर है। उसके बाद कर्नाटक, राजस्थान व झारखंड है। इसके अनुसार सितंबर 2015 तक भारत के विभिन्न क्षेत्रों को 164 लाख करोड़ रूपए से अधिक मूल्य का कुल निवेश मिला। इसमें से लगभग 33 लाख करोड़ रूपए का निवेश विनिर्माण क्षेत्र में आया।

भारत मे ं विनिर्माण क्षेत्र को प्राप्त कुल सक्रिय निवेश मे ं से धातु और अधातु उत्पादां े मे ं ही अकेल े आधा (48 फीसद) निवेश प्राप्त हुआ। इसक े बाद रसायन आरै रसायन उत्पादा ंे म ंे 24 फीसद, मशीनरी म ंे आठ फीसद, परिवहन कलपर्जु ा ंे म ंे सात फीसद, निमाणर्् ा क्षत्रे क े सामान म ंे सात फीसद, खाद्य आरै कृषि आधारित उत्पादा ंे म ंे तीन फीसद निवश्े ा प्राप्त हुआ। आेि डशा म ंे विनिर्माण क्षत्रे का े प्राप्त कुल सक्रिय निवश्े ा म ें अकले े धातु आरै धातु उत्पादा ंे क े क्षत्रे म ंे ही कुल निवश्े ा का 79 फीसद प्राप्त हुआ। इसक े बाद रसायन आरै रसायन उत्पादा ंे म ंे 15 फीसद, परिवहन कलपुर्जा ंे म ंे तीन फीसद, निर्माण म ंे काम आन े वाल े सामान म ंे एक फीसद निवश्े ा प्राप्त हुआ।